प्रिय मित्रों,
तकनीकी कारणों से आज का कार्यक्रम आधा घंटा विलंब से शुरू होगा , तबतक दूरदर्शन के अबतक के सबसे सफल और सर्वाधिक चर्चित संदेश " मिले सुर मेरा तुम्हारा तो सुर बने हमारा " का विडिओ देखिये ....इससे होने वाली असुविधा के लिए हमें खेद है !

4 comments:

  1. बहुत बढिया!! अच्छी प्रस्तुति।

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत बढिया ,
    हम न सुर भूलेंगे और न ब्लॉगिंग
    ब्लॉगिंग सुर कुछ इस तरह --
    मिले ब्लॉग मेरा - तुम्हारा
    तोssssss ब्लॉग बनेssssन्यारा
    जो कहलाए परिकल्पना ब्लॉगोत्सव----

    उत्तर देंहटाएं

आपका स्नेह और प्रस्तुतियों पर आपकी समालोचनात्मक टिप्पणियाँ हमें बेहतर कार्य करने की प्रेरणा प्रदान करती हैं.

 
Top