स्वप्न मंजूषा 'अदा' जी ने ख़ास तौर पर परिकल्पना ब्लॉग उत्सव-२०१० हेतु अपनी कविता के वीडियो भेजे हैं , कविता का शीर्षक है - "ऐसा हो नहीं सकता "




इस विडिओ में आप ऐसा हो नहीं सकता विषय से संबंधित अन्य कविताएँ अथवा हिंदी फिल्म गीत भी सुन सकते हैं ...आपके लिए विशेष रूप से तैयार किया गया है .


...........उत्सव जारी है, मिलते हैं एक अल्प विराम के बाद

4 comments:

  1. मेरे कंप्यूटर में तो एरर नहीं आ रहा .....अदा जी का विडिओ थोड़ा रूक-रूककर चल रहा है मगर रचना मनमोहक है !

    उत्तर देंहटाएं
  2. अदा जी को सुनना अच्छा लगा ...बधाई !

    उत्तर देंहटाएं
  3. परिकल्पना का विशेष आभार ...
    आपने इस योग्य समझा...

    उत्तर देंहटाएं

आपका स्नेह और प्रस्तुतियों पर आपकी समालोचनात्मक टिप्पणियाँ हमें बेहतर कार्य करने की प्रेरणा प्रदान करती हैं.

 
Top