एक ऐसी कवियित्री जो कविवर पन्त की मानस पुत्री श्रीमती सरस्वती प्रसाद की बेटी हैं । स्वर्गीय सुमित्रा नंदन पन्त ने जिनका नामकरण ही नहीं किया अपितु अपनी स्व रचित पंक्तियाँ इनके नाम की..."सुन्दर जीवन का क्रम रे, सुन्दर-सुन्दर जग-जीवन"।

शब्दों की पांडुलिपि जिन्हें विरासत में मिली है। मन जहाँ तक जाता है, इनके शब्द उसकी अभिव्यक्ति बन जाते हैं। जिन्हें शब्दों की जादुई ताकत माँ ने दी और कमल बनने का संस्कार पिता ने, परिपक्वता समय की तेज आँधी ने।

सपने जिनकी नींव हैं और लेखनी जिनकी ताक़त .....जो सपनों की दुनिया में कोमलता ढूँढती हैं और हकीक़त कविता के रूप में सामने आ जाती है .... इनका मानना है कि सपनों की दुनिया मन की कोमलता को बरकरार रखती है...हर सुबह चिड़ियों का मधुर कलरव - नई शुरूआत की ताकत के संग इनके मन-आँगन में उतरा...ख़ामोश परिवेश में सार्थक शब्दों का जन्म होता रहा और ये अबाध गति से बढती गईं और यह एक और सौभाग्य कि आज यहाँ हैं....अपने सपने, अपने आकाश, अपने वजूद के साथ!
जानते हैं कौन हैं वो ?
वो हैं रश्मि प्रभा

इन्हें ब्लोगोत्सव-२०१० की टीम ने वर्ष की श्रेष्ठ कवियित्री का अलंकरण देते हुए सम्मानित करने का निर्णय लिया है ।

20 comments:

  1. एकदम सटीक चुनाव। प्रभाजी को बधाइयाँ और परिकल्पना ब्लागोत्सव को धन्यवाद।

    प्रमोद ताम्बट
    भोपाल
    www.vyangya.blog.co.in
    www.vyangyalok.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  2. रश्मि प्रभाजी को बधाइयाँ !

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत बहुत बधाई ...


    आपकी पोस्ट आज चर्चा मंच पर भी है...

    http://charchamanch.blogspot.com/2010/07/217_17.html

    उत्तर देंहटाएं
  4. ख़ुशी से मेरी आँखें नम हैं, यह मेरी उपलब्धि नहीं, जो कुछ है आपलोगों का है, ... आपकी सराहना ने मुझे ये सम्मान दिया है

    उत्तर देंहटाएं
  5. Ye cheating hai...aankh me nami la ke mithai khilane se bachna ka bahana nahi chalega :)

    One a serious note,

    Aapke rukm shabd yon hi hame prajjwalit karte rahein, ashish dein.

    bahut bahut badhai, ambar ko ambar kahlane ki :)

    aap samajh rahi hain na :)

    उत्तर देंहटाएं
  6. नहीं बेटा...... मिठाई तो खिलाऊँगी ही , चलो सबको लेकर आ जाओ... तुमको बहुत आशीर्वाद

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत बधाई हो रश्मि प्रभा जी को।

    उत्तर देंहटाएं
  8. रश्मि जी ....बधाई ......!!

    हमें तो पहले से पता था ये खिताब आपको ही मिलने वाला है .......!!

    उत्तर देंहटाएं
  9. रश्मि जी
    बहुत बहुत बधाई
    अपने नाम के अनुरूप ही आलोकित किया है और करती रहेगी |अनेक शुभकामनाये |

    उत्तर देंहटाएं
  10. रश्मि प्रभाजी को बधाइयाँ !

    उत्तर देंहटाएं
  11. रश्मि जी जी बहुत-बहुत बधाई । यथा नाम तथा रूप ..आप सदा यूं ही लिखती रहें रश्मि अपनी चमक से सबको रोशनी दिखाती रहे ....आमीन ।

    उत्तर देंहटाएं

आपका स्नेह और प्रस्तुतियों पर आपकी समालोचनात्मक टिप्पणियाँ हमें बेहतर कार्य करने की प्रेरणा प्रदान करती हैं.

 
Top