डा. सुभाष राय के मुख्य संपादन में प्रकाशित दैनिक जनसंदेश टाईम्स हिंदी ब्लॉगिंग के प्रति अपनी कटिबद्धता को बनाए रखते हुए इस रविवार को भी अर्थात दिनांक ०६.०३.२०११ को ब्लॉग कोना  स्तंभ के अंतर्गत हिंदी के तीन महत्वपूर्ण ब्लॉगर  क्रमश: उमेश चतुर्वेदी,शिरीष  खरे , डा. मोनिका शर्मा और गौतम राजरिशी के ब्लॉग पर प्रकाशित पोस्ट को स्थान दिया है !

इसबार उमेश चतुर्वेदी के ब्लॉग मीडिया मीमांसा से "कथा-कहानी क्यों लिख देते हैं गाली " / शिरीष खरे के ब्लॉग दोस्त से "गुरु जी मारे धम्म-धम्म, विद्या आये छम्म-छम्म " / डा. मोनिका शर्मा के ब्लॉग परवाज़ ...शब्दों के पंख  से " बरात में गोली क्यों चलाते हैं लोग" और गौतम राजरिशी के ब्लॉग " पाल ले एक रोग नादाँ " से तीन ख़्वाब, दो फोन कॉल्स और एक रुकी हुयी घड़ी"  की  चर्चा हुयी है , लीजिये आप भी पढ़िए और बताईये कि दैनिक जनसंदेश की ये पहल कैसी है ?


14 comments:

  1. उमेश चतुर्वेदी,शिरीष खरे , डा. मोनिका शर्मा और गौतम राजरिशी सभीको हार्दिक बधाई।

    उत्तर देंहटाएं
  2. पूरा पृष्ठ होना ही चाहिए। ब्लाग आज सब से ताजा लेखन का स्थल है।

    उत्तर देंहटाएं
  3. yahi hota hai...jab sahi vyakti sampadak banata hai to vah apni nai drishti se kaam karata hai. tab akhabaar aage barhataa hai. patrakaritaa bhi. blog par dhyaan denaabadee baat hai. aise sampadako ke karan patrakaritaa aage barhatee hai.

    उत्तर देंहटाएं
  4. वाह क्या बात है. ये हुई न बात .

    उत्तर देंहटाएं
  5. ब्लॉग के प्रति अखबार की प्रतिबद्धता सचमुच प्रशंसनीय है, सुभाष जी को ढेरों बधाईयाँ

    उत्तर देंहटाएं
  6. उमेश चतुर्वेदी,शिरीष खरे , डा. मोनिका शर्मा और गौतम राजरिशी सभीको हार्दिक बधाई।

    उत्तर देंहटाएं
  7. उमेश चतुर्वेदी,शिरीष खरे , डा. मोनिका शर्मा और गौतम राजरिशी को हार्दिक बधाई ...

    उत्तर देंहटाएं
  8. सभी को बहुत-बहुत बधाई ।

    उत्तर देंहटाएं
  9. उमेश चतुर्वेदी,शिरीष खरे , डा. मोनिका शर्मा और गौतम राजरिशी जी को हार्दिक बधाई और शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं
  10. रविन्द्र जी आभार जानकारी के लिए..... यह अच्छी पहल है ब्लॉग जगत के लिए....

    उत्तर देंहटाएं

आपका स्नेह और प्रस्तुतियों पर आपकी समालोचनात्मक टिप्पणियाँ हमें बेहतर कार्य करने की प्रेरणा प्रदान करती हैं.

 
Top