कहा गया है, कि मन और बुद्धि के समर्पण की दिशा में एकता का रंग भरते हुए जीवन रूपी प्रवृतियों के कलश में संस्कार की मर्यादा को उतारना और आपसी प्यार व विश्वास के पवित्र पलों की अनुभूति कराते हुए एक-दूसरे के साथ मिलकर सादगीपूर्ण जीवन को रंगमय कर देना ही होली है ......फागुनी वयार बहने लगी है और वातावरण धीरे-धीरे होलीमय होता जा रहा है , तो आईये परिकल्पना के संग महसूस कीजिये फागुन को -

तन पे सांकल फागुनी, नेह लुटाये मीत !
पके आम सा मन हुआ , रची पान सी प्रीत !!

महुआ पीकर मस्त है, रंग भरी मुस्कान !
झूम रहे हैं आँगने, बूढे और जवान !!

धुप चढी आकाश में , मन में ले उपहास !
पानी-पानी कर गयी , बासंती एहसास !!

चूनर- चूनर टांकती , हिला-हिला के पाँव !
शहर से चलकर आया, जबसे साजन गाँव !!

मंगलमय हो आपको , होली का त्यौहार !
रसभीनी शुभकामना, मेरी बारम्बार !!
() रवीन्द्र प्रभात

25 comments:

  1. बहुत खूबसूरत होली में रंगी रचना ...होली की शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  2. होली के अवसर पर बेहतरीन रचना ..होली मुबारक हो.

    उत्तर देंहटाएं
  3. मंगलमय हो आपको , होली का त्यौहार !

    उत्तर देंहटाएं
  4. होली के रंगों में रंगी हुई रचना

    उत्तर देंहटाएं
  5. आपकी उम्दा प्रस्तुति कल शनिवार (19.03.2011) को "चर्चा मंच" पर प्रस्तुत की गयी है।आप आये और आकर अपने विचारों से हमे अवगत कराये......"ॐ साई राम" at http://charchamanch.blogspot.com/
    चर्चाकार:Er. सत्यम शिवम (शनिवासरीय चर्चा)

    उत्तर देंहटाएं
  6. भूल जा झूठी दुनियादारी के रंग....
    होली की रंगीन मस्ती, दारू, भंग के संग...
    ऐसी बरसे की वो 'बाबा' भी रह जाए दंग..


    होली की शुभकामनाएं.

    उत्तर देंहटाएं
  7. महुआ पीकर मस्त है, रंग भरी मुस्कान !
    झूम रहे हैं आँगने, बूढे और जवान !!


    यही तो होली की खासियत है ....आपको सपरिवार होली की हार्दिक शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  8. महुआ पीकर मस्त है, रंग भरी मुस्कान !
    झूम रहे हैं आँगने, बूढे और जवान !!

    बहुत बढ़िया .....होली की हार्दिक शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  9. आप सब को भी होली की हार्दिक मंगलकामनाएं.

    उत्तर देंहटाएं
  10. बहुत खूबसूरत रचना .
    होली की हार्दिक शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं
  11. होली की शुभकामनायें...... हैप्पी होली

    उत्तर देंहटाएं
  12. कर गई मस्त मुझे, फागुन की ये हवा,
    मैं लगा झूमने, ये मुझे क्या होने लगा...

    खुशियों के रंगों से आपकी होली सराबोर रहे...

    जय हिंद...

    उत्तर देंहटाएं
  13. वाह रवीन्द्र भाई!
    अद्भुत, अनोखे और अनूठे बिम्बों-प्रतीकों के प्रयोग से यह रचना दिल को भा गई।
    चारों ओर फागुनी बयार छा गई।
    हैप्पी होली!

    उत्तर देंहटाएं
  14. बड़ी प्यारी रही यह रचना रविन्द्र भाई !
    होली पर आप व परिवार को शुभकामनायें !

    उत्तर देंहटाएं
  15. सुंदर अभिव्यक्ति, होली पर्व की घणी रामराम.

    उत्तर देंहटाएं
  16. सुंदर अभिव्यक्ति, होली पर्व की घणी रामराम.

    उत्तर देंहटाएं
  17. होली के पर्व की अशेष मंगल कामनाएं। ईश्वर से यही कामना है कि यह पर्व आपके मन के अवगुणों को जला कर भस्म कर जाए और आपके जीवन में खुशियों के रंग बिखराए।
    आइए इस शुभ अवसर पर वृक्षों को असामयिक मौत से बचाएं तथा अनजाने में होने वाले पाप से लोगों को अवगत कराएं।

    उत्तर देंहटाएं
  18. मन को होलीमय करती एक बेहद खूबसूरत रचना………………आपको और आपके पूरे परिवार को होली की हार्दिक शुभकामनाएँ।

    उत्तर देंहटाएं
  19. सुंदर फागुनी गीत

    सुरक्षित , शांतिपूर्ण और प्यार तथा उमंग में डूबी हुई होली की सतरंगी शुभकामनायें ।

    उत्तर देंहटाएं
  20. महुआ पीकर मस्त है, रंग भरी मुस्कान !
    झूम रहे हैं आँगने, बूढे और जवान !!

    बेहतरीन प्रस्‍तुति ...होली की शुभकामनाएं ।

    उत्तर देंहटाएं
  21. मंगलमय हो आपको होली का त्यौंहार.

    होली के इस रंगारंग पर्व की आपको हार्दिक शुभकामनाएँ...

    उत्तर देंहटाएं
  22. होली के रंगों में रंगी सुंदर रचना ..

    उत्तर देंहटाएं

आपका स्नेह और प्रस्तुतियों पर आपकी समालोचनात्मक टिप्पणियाँ हमें बेहतर कार्य करने की प्रेरणा प्रदान करती हैं.

 
Top