परिकल्पना में भेजिए अपनी रचनाएँ - लघुकथा,कहानी,व्यंग्य,संस्मरण,यात्रा वृतांत,सामाजिक हलचल ..... 
पूरी धरती,पूरा आकाश लेकर भेजिए rasprabha@gmail.com पर 
समय रहते अपनी रचनाएँ भेजिए 

4 comments:

  1. दीदी अभी भेज रहा हूँ . आपको . अपनी कविताएं और कहानिया .

    धन्यवाद.

    उत्तर देंहटाएं
  2. thik hai rashmi ji aapne bulaya bhej dete hai laghukathayen aur kavitayen aur sansmaran

    उत्तर देंहटाएं
  3. :) क्‍या बात है ... कोई कमी न रह जाये इस उत्‍सव में

    तभी तो हर विधा को इतनी सहजता से आप साथ लेकर चल रही हैं ...
    एक बार फिर से आपके इस श्रम को सादर नमन

    उत्तर देंहटाएं

आपका स्नेह और प्रस्तुतियों पर आपकी समालोचनात्मक टिप्पणियाँ हमें बेहतर कार्य करने की प्रेरणा प्रदान करती हैं.

 
Top