कहा गया है कि जब तोप मुक़ाबिल हो तो अखबार निकालो, क्योंकि अखबारों के पाँव नहीं होते मगर चलने की आहट जरूर महसूस होती है। अखबार समाज का दर्पण होता है जिसमें पूरा समाज देखता है अपना अक्श। यह कड़वा सच है कि, भारत में पारंपरिक अखबारनवीसो ने विज्ञान और तकनीक के क्षेत्र में युवा प्रतिभाओं की अनदेखी की। फलत: प्रिंट मीडिया नया मीडिया से अलग-थलग पड़ गया और वर्तमान में जो अखबारो की स्थिति है वह जगजाहिर है। भागदौड़ की ज़िंदगी में वक्त किसके पास है जो सुबह की चाय के साथ अखबार पढ़ने का जोखिम उठाए। अब तो मोबाइल ऐप का जमाना है पढ़ते हुये, काम करते हुये, खाते हुये, पीते हुये देश-दुनिया की ताज़ा गतिविधियों पर नज़र रखना फैशन बन चुका है।

ऐसे ही एक समाचार एप्प से मैं रूबरू हुआ कल, जब उसके नुमाइंदे मुझसे जरूरी मशविरा करने हैदराबाद से लखनऊ मेरे आवास पर पधारे। उस टीम का प्रतिनिधित्व कर रहा था एक प्रतिभाशाली युवा अमित। अमित वैसे कानपुर के रहने वाले हैं लेकिन अपने अधिकारियों के साथ हैदराबाद से पधारे थे। दो घंटे तक चली वार्ता में उन्होने इस मोबाइल ऐप की खूबियों को बताया। यह मेरे लिए जिज्ञासा का विषय नहीं था। जब उन्होने इस अभियान में हिन्दी का व्यापक प्रसार करने के साथ-साथ हिन्दी ब्लॉगरों को जोड़ने और उन्हें उनके योगदान के अनुरूप पारिश्रमिक देने की बात कही तो मैं चौंक गया। मैंने उन्हें बहुत सारे टिप्स दिये और बताया कि कैसे हिन्दी के प्रसार में आप इस ऐप के माध्यम से मददगार साबित हो सकते हैं।

यह समाचार ऐप है न्यूज़डॉग, जो भारत की सबसे छोटी समाचार एप्प है। यह आपको तत्काल देश-विदेश में हो रही घटनाओं से अवगत कराता है| अब इस एप्प का संस्करण हिंदी में भी उपलब्ध कराने की तैयारी चल रही है, जिसे आप अपनी सुविधा और पठनीयता के अनुसार हिंदी समाचारों का लाभ उठा सकते हैं|यह एप्प हिंदुस्तान टाइम्स, हंस इंडिया, विश्व गुजरात, इंडिया टीवी, योर स्टोरी, इंटरनेशनल बिज़नस टाइम्स, न्यूज़ट्रैक लाइव तथा तमाम राष्ट्रीय व स्थानीय सूत्रों के हवाले से सुर्खिया संघटित कर सबसे दिलचस्प और प्रासंगिक ख़बरों को आपके सामने प्रस्तुत करेगा| चाहे बॉलीवुड गपशप हो या क्रिकेट समाचार के अपडेट, स्व-उद्यम की कहानियाँ हो या राजनैतिक हलचल अथवा सरकार की नवीनतम योजनायों की सटीक जानकारी – आपको हर पहलू की ख़बर इस लाइव भारतीय समाचार एप्प के तहत प्राप्त होती रहेगी| साथ ही आपको नियमित राजनीति, समाज, व्यापार, प्रद्योगिकी, क्रिकेट, बॉलीवुड एवं देश – दुनिया के हर मोर्चे की ब्रेकिंग न्यूज़, रुझानों और सुर्ख़ियों से अद्यतित रखा जायगा|


आए हुये प्रतिनिधियों ने मुझे बताया कि यह ऐप आपके ब्राउज़िंग आदतों से आपकी पसंद का विश्लेषण करते हुये हजारों दैनिक ख़बरों में से सर्वाधिक प्रासंगिक और शीर्ष ख़बरों को आप तक पहुंचाने में मदद करेगा|सुर्खियों में आपको ताज़ा ख़बर मिल सकती है। स्थानीय समाचार और स्थानीय मौसम की जानकारी भी मिल सकती है। हिंदुस्तान टाइम्स, हंस इंडिया, विश्व गुजरात, इंडिया टीवी, योर स्टोरी, इंटरनेशनल बिज़नेस टाइम्स, न्यूज़ट्रैक लाइव आदि अखबारों के स्त्रोत भी मिल सकते हैं। रियल-टाइम समाचार, राशिफल, अनलिमिटेड विडियो, तत्काल समाचार, बुकमार्क, न्यूज़ सर्च इंजन के साथ-साथ खेल-कूद, मनोरंजन, शिक्षा, ऑटो, व्यापार, लाइफस्टाइल, प्रोद्योगिकी, स्वास्थ्य, स्थानीय, राजनीति तथा अंतराष्ट्रीय जगत के हर प्रमुख घटनाक्रम की ख़बर आपको इस ऐप के जरिये प्राप्त होगी।

उन्होने यह भी कहा कि आप देश-विदेश से जुड़े किसी भी क्षेत्र के समाचारों की कमी कभी महसूस नहीं करेंगे|

है न मजेदार ऐप, वह भी हिन्दी में?
Next
This is the most recent post.
Previous
पुरानी पोस्ट

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

आपका स्नेह और प्रस्तुतियों पर आपकी समालोचनात्मक टिप्पणियाँ हमें बेहतर कार्य करने की प्रेरणा प्रदान करती हैं.

 
Top